Ek Aashik Anjaana – Part 2


Click to Download this video!
Namitayadav 2016-07-18 Comments

और मेरी टांगें हवा में उठ के धूजने लगी, मेरी चूत अब झड़ के सूख चुकी थी मगर दीपेश अभी भी उसी स्पीड से मुझे पेल रहा था जिससे मुझे बहुत दर्द होने लगा और मैं जोर चीख पड़ी की र्रर्रर्रऊऊऊक जाआआओ जालिम आआआआह हहहह आह ह्म्म्म हिम्मम करके मैं बड़बड़ाई कितना हरामी और जालिम है तू क्या मेरी चूत फाड़ डालेगा क्या आज.

इतना सुनते ही वो बोला हा मेरी रानी आज तेरी चूत का वो हाल करूँगा की तू ठीक से चलफिर भी नहीं पायेगी ना मूत पायेगी सुकून से, उसने अपना लण्ड बाहर खिंचा और एक तगड़ा धक्का दिया जिससे मुझे लगा की मेरी बच्चेदानी चीर दी हो और फिर बाहर खिंचा तो लगा जैसे उसके हब्शी लण्ड के साथ बच्चेदानी भी बहार आ जायेगी अब तो.

मैं फिर से मछली की तरह तड़प के चिल्लाई उइईईईईई माँ री मुझे नहीं चुदना तुझसे छोड़ दे मुझे कमीने पर उसने एक न सुनी धक्के पे धक्के लगाते गया उसका हर धक्का पिछले धक्के से तेज ओर ताकतवर होता जिससे मैं बेहोश सी होने लगी और तीसरी बार झड़ गयी इस बार मुझमे चिल्लाने की ताकत ही नहीं बची थी बस धूजति रही पड़े-पड़े..

अब वो मेरे ऊपर आ गया और लण्ड मेरे मुंह में ठूस दिया जिससे मेरी आवाज और साँस दोनों घुटने लगी और जोर-जोर से मुंह चोदने लगा करीब 15 मिनट बाद वो मेरे मुंह में ही पिचकारी मारता हुआ निढाल हो गया.

थोड़ी देर बाद मैंने उठने की कोशिश की तो मैं बेड पे से हिल भी नही पाई बड़ी मुश्किल से सहारा लेकर उठी और बाथरूम गयी वहाँ कांच में खुद को देखा तो मेरी चूत ऐसी दिख रही थी जैसे किसी ने चाकू से चीर दी हो और सूज के डबल-रोटी जैसी हो गयी, , मैं ठीक से मूत भी नहीं पाई और जोर लगाती तो दर्द होने लगता चूत में, , , ठीक से चल भी नहीं पा रही थी ना बैठ पा रही थी, , अब इतने जालिम लण्ड से चुदाई के बाद तो यही हाल होना थे.

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार निचे कोममेंट सेक्शन में जरुर लिखे.. ताकि देसी कहानी पर कहानियों का ये दोर आपके लिए यूँ ही चलता रहे।

आपको स्टोरी कैसी लगी दोस्तों, आगे मैं बताउंगी की उसने कैसे मेरी गांड मारी और मुझे ठीक से चलने लायक भी न छोड़ा, गांड में दीपेश का हब्शी लण्ड लेने के बाद तो मेरी चाल ही बदल गई और गांड भी सुझा दी उसने मार-मार में.

दोस्तों अपना रिस्पांस जरूर दे मेल करके, आपकी प्यारी रंडी और दीपेश की रखैल नमिता यादव और मेरी मेल आई डी है “[email protected]”. आप सब इस पर मुझे मेल कर सकते है, , ,
मुझे आपके मेल का इंतज़ार रहेगा दोस्तों.

Hindi Sex Stories

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top