Jija Ji Ne Ki Meri Pehli Chudai – Part 2


nehajaiswal 2016-03-07 Comments

This story is part of a series:

जीजू का लंड उसके बाद वैसे शांत नहीं हुआ लेकिन टाइम नहीं था की हम लोगो को वापस पेल सके. और वो बोले की बहुत मजा आया सिर्फ एक चीज़ की कमी रही. नेहा की गांड में नहीं घुसाया. निकिता ने मुझसे कहा की की हमे खुश रहना चाहिए की ऐसे लंड से हम लोगो का सील टुटा है. नहीं तो जवानी में पता नहीं हमलोग किसके आगे टांगे फैलानी पड़ती.

Kahani padhne ke baad apne vichar niche comment section me jarur likhe, taaki energotonyka.ru par kahaniyon ka ye dor apke liye yun hi chalta rhe.

निकिता अपनी पैंटी पेपर में डाल के बैग में रखी और बिना पैंटी के ही पायजामा पहन के घर गयी. जीजू को एक दिन और रहना था और मेरी एक बार और चुदाई हुई जो की और यादगार रही. क्योकि जीजू ने अगले दिन मेरी चूत और गांड दोनों मारी वो indian sex story आपके साथ जरूर शेयर करुँगी.

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top