Bus Me Mili Aunty Ne Chudwaya

Click to this video!
Muksa458 2016-10-10 Comments

Sex Stories In Hindi

दोस्तो मेरा नाम इलियास है मै अक्सर सफर करता रहता हूँ मेरी उम्र 36 है साँवला रंग है और हष्ट पुष्ट शरीर है मै हमेशा से ही किसी शादी शुदा आँटी को चोदने की फिराक मै रहता हूँ क्यों की 36 की उम्र मै शायद ही कोई लड़की मुझसे अपनी चुत की सील तुड़वाये इसलिये आँटी को चोदने का बड़ा मन करता है।

अब मै स्टोरी पर आता हूँ मेरे दोस्त के घरवाली हज पर जा रहे थे तो उनको छोड़ने के लिये जयपुर जाना था तो मुझे दिल्ली कोई काम था तो मैने अपने दोस्त को कहा की मै सीधे ही जयपुर पहुँच जाऊँगा और मै पहुँच भी गया 1 दिन रुककर मैने रात ही मै जोधपुर जाने का मन बनाया
और मैने अपने दोस्त को बोल दिया और जयपुर बस स्टेंड आ गया रात के 12 बजे की बस थी और मै 11 बजे ही बस स्टेंड पहुँच गया था।

बस वौल्वौ थी तो मै ऐसी बस वेटिंग हॉल मै बस का वेट करने लगा लेकिन मै जैसे ही वेटिंग हॉल मै घुसा तो सामने एक हसीन आँटी बैठी उसको देखकर मेरी आँखे फटी के फटी रह गयी उसकी उम्र लगभग 30 होगी उसके फिगर लगभग 36 होंगे और वो टाइट जिन्स और हाफ बाजू का टी शर्ट पहनी हुई थी उस T शर्ट मै उसके बूब्स जैसे बाहर आने के लिये तरस रहे थे।

मै तो उसको देखते ही मेरा 8 इंच का लंड 10 इंच का हो गया और मै उसके सामने बैठा था उसकी नज़र भी मेरे ऊपर पड़ी थी जब मै उसे बार बार देख रहा था तो उसने भी देखना शुरू किया उसकी मेरा लंड मानो पेंट को फाड़कर बाहर आने लगा उसकी नज़र भी मेरे लंड पर पड़ी।

जब मैने देखा की उसने मेरे लंड को ध्यान लगाकर देखा है तो मै मचल उठा और मन किया की अभी इसको यहीं मसल दूँ मै कंट्रोल से बाहर हो गया था तो मैने अपना वेग रखकर उसको बोला की आप थोड़ा ध्यान रखना मै टॉइलेट जाकर आता हूँ। यह कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है।

उसने ओके किया और पास ही मै टॉइलेट था वहाँ जाकर मुठ मारकर अपने आप को कंट्रोल किया और वापस आया और मैने उसे थेंक्स बोला लेकिन मुठ मारते समय वीर्य की एक बूँद मेरी पेंट पर भी लग गयी थी और उसने मेरे लंड की तरफ़ देखा शायद अब उसे पता चल गया था की मै मुठ मारकर आया हूँ और मेरी नज़र पेंट पर लगे वीर्य पर गयी तो मै हैरान रह गया।

मैने चुपके से हाथ से साफ करने लगा और उसने देख लिया और उसने हल्की सी सेक्सी मुस्कान दी मेरे तो होश उड़ गये लगा की काम बन सकता है मैने हिम्मत करके पूछा की आप कहा जायेगी तो उसने भी जोधपुर जाने का कहा फिर मैने भी कहा की मै भी जोधपुर जा रहा हूँ मुठ मारने के बाद भी मेरा लंड खड़ा हो रहा था बस आ गयी थी।

और हम भी बस की और बढे।

अंदर जाकर देखा तो वाह रे मेरी किस्मत वो मेरी पास वाली सीट ही उसकी थी।

और वो मुस्कुरा कर मेरे पास बैठ गयी फिर हमने थोड़ी बाते स्टार्ट की।

उसने अपना नाम निशा बताया मैने भी अपना परिचय दिया।

बरसात के कारण पूरी रोड पर गड्ढे ही गड्ढे थे इस कारण कभी वो मेरी तरफ़ आ रही थी कभी मै उसकी तरफ़ मेरा हाथ उसकी मुलायम कंधो और हाथ पर टच हो रहा था उसे भी शयद मजा आ रहा था तभी एक और बड़ा गडढा आया और मै सीधा उसकी गोद गिरा मेर मुँह उसके फिगर के पास था और फिगर दब गया उसे भी मजा आया और बातो ही बातो मै उसने मेरा हाथ पकड़ लिया लेकिन बस मै और भी यात्री बैठे थे इस कारण हम मौका देखकर एक दूसरे को टच कर रहे थे।

लेकिन जैसे ही लाइट बँद हुई मैने अपना हाथ पीछे से उसकी कमर को छूते हुवे उसकी गांड पर गया वो मजे लेने लगी और उसके भी सब्र टूट गया और सीधा उसने मेरे खड़े लंड को पेंट के ऊपर से दबा दिया मेरा तो इतना मन कर रहा था की अभी इसी चोद दूँ।फिर हमने धीरे धीरे एक दूसरे के बदन पर हाथ फेर रहे थे।

लेकिन अब मैने धीरे से उसकी पेंट का हुक खोला और उसकी चूत मै हाथ डाल दिया उसकी चूत पूरी गीली हो चुकी थी और वो कह रही थी की अब मै और बर्दाश्त नही कर सकती मुझे तो अभी चुदना है फिर हमने रास्ते मै दूदू मै गाड़ी रुकवाई और वहीँ उतर गये।

बड़ा हाइवे हनी के कारण वहाँ रोड पर खूब होटल थी हमने वहीँ पर एक होटल मै बात की होटल मै रूम लिया।

जैसे ही हम रूम मै घुसे उसने गेट बँद किया और मुझ पर किस की बारिश करनी शुरू करदी मैने भी उसके होंठ से होंठ मिलाकर उसके होठो को जबरदस्त चूसा।

Comments

Scroll To Top