Meri Surprise Suhagraat


Click to Download this video!
beautyrupa321 2016-10-08 Comments

मैं चिल्लाने लगी की प्रवीन आज मेरी नथ उतार डालो जान खूब चोदो अपनी रूपा को जोर से करो ना और कसके जान फाड़ डालो मेरी चुत को राजा खा जाओ इसे कितना मजा आ रहा है प्रवीन पुरे स्पीड से चोदने लगा उसने मेरी दोनों चूची को दबा दबा कर पूरा लाल कर दिया था इतनी स्पीड में वो मुझे चोद रहा था की अचानक हम दोनों की जवानी के रस फुट पड़े और मेरी पूरी चुत भर गयी और हम एक दुसरे की बाहों में समा गए थोड़ी ही देर में प्रवीन फिर उठ खड़ा हुआ।

और बोला की रूपा रानी अब अपने पति का लंड चुसो न उसने तुरंत अपने लंड को मेरे होठों से लगा दिया और मुंह के अन्दर ठेल दियाऔर चुचियों को दबाते हुए पुरे बेग से अन्दर बाहर करने लगा अब हम दोनों पुरी रफ़्तार पकड़ चुके थे।

प्रवीन बोला रूपा अब मेरा लंड तुम्हारे पुए जैसी गांड को मारना चाहता है उसने मुझे पेट के बल लिटाया और अपने लंड और मेरी गांड में सं लगाया और धीरे कर कर घुसाने लगा उसने पुछा की कभी तुम गांड मरवाई हो मैंने बोला की मेरे हसबैंड अनाडी हैं बस ऊपर से ही किया है।

प्रवीन बोला की देखो मेरा लंड तुम्हारीहै चिकनी और दागरहित गांड मारने के लिए कितना उछल रहा है आज तुम्हारा ये पति तुम्हारी गांड मारेगा ये कह कर प्रवीन मेरी गांड में एक झटके से पूरा लंड पेल दिया मैं दर्द से कराहने लगी पर वो गांड मारना बंद नहीं किया और थोड़ी देर में मेरे गांड में ही अपना रस गिरा दिया फिर से हम एक दुसरे की बाँहों में समा गए हमने रात भर में छः बार चुदाई की और एक दुसरे से सट कर और बाहें डाल कर नंगे ही सो गए।

सुबह छः बजे हम फिर उठे और प्रवीन और मैंने कहा की आज सुबह सुबह की चुदाई भी कर ली जाये न जाने कब मौका मिले फिर उसने फिर मुझे चूम चूम कर पूरा उत्तेजित कर दिया और मेरी बुर में लंड डाल कर पेलने लगा मैं तेज आवाज निकाल रही थी और कहे जा रही थी।

की मेरे पति मेरे प्रेमी मेरी बुर देखो तुम्हारे के लिए रो रही है इसे संतुष्ट करो तुम्हारी जिम्मेवारी है इसे चुप कराने की प्रवीन बोला की मेरा लंड अपनी दोस्त तुम्हे बुर को पूरा संतुष्ट कर देगा तुम देखती जाओ ये कह कर वो तेज धक्के लगाने लगा और मैं चिल्लाना शुरू कर दी तब तक दरवाजे पर थाप सुनाइ दी सुनीता आवाज दे रही थी।

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार निचे कोममेंट सेक्शन में जरुर लिखे.. ताकि देसी कहानी पर कहानियों का ये दोर आपके लिए यूँ ही चलता रहे।

हम दोनों ने कहा किधक्का देने दो अब चुदाई के बाद ही खोलेंगे पर हमें ख्याल नहीं रहा की हमने दरवाजा अन्दर से लगाया नहीं है मेरी चुदाई हो ही रही थी की सुनीता और श्याम अन्दर आ गए पर हम तो एक दुसरे में खोए हुए थे मैं सुनीता और श्याम को देख कर चौंक गयी।

सुनीता मुस्कुराने लगी हैप्पी बिलेटेड सुहागरात रूपा माफ़ करना हमने तुम्हें सरप्राइज दे दिया उम्मीद है तुम्हे सरप्राइज पसंद आया होगा उनके आने के बाद भी प्रवीन ने चोदना नहीं छोड़ा और मुझे चोद कर मेरे बुर में अपना रस गिरा दिया इधर श्याम ने जब मुझे नंगी देखा और चुदते हुए देखा तो पुरे जोश में आ गया और मेरी चुचियों को दबाने लगा मैंने कहा प्रवीन मैं तुम्हारी बीवी हूँ दूसरा कोई कैसे हमें छू सकता है।

प्रवीन बोला की क्या फर्क पड़ता है अब तुम मंगलसूत्र निकाल दो श्याम तुम्हे पहना देगा और फिर तुम दोनों एक साथ सुहाग दिन मना लेना। ये एपिसोड अगले पार्ट में और मेरी मेल आई डी है “[email protected]”.

Sex Stories In Hindi

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top