Mere Dost Ki Maa Meena – Part 1


Dilwala Rahul 2016-05-20 Comments

आंटी- राहुल बेटा और बता क्या क्या हॉबी हैं तेरी ?

मैं- बस माँ, कभी क्रिकेट, फुटबॉल खेल लेता हूँ, कभी कभी बाइक में कहीं अकेला दूर निकल जाता हूँ घूमने।

आंटी- ओह।। अच्छा, बाइक में अकेला क्यों जाता है गर्लफ्रेंड नहीं है क्या तेरी ?

मैं(शरमाते हुए)- नहीं माँ, कोई बनी ही नहीं अभी तक।

आंटी- तू कोशिश ही नही करता होगा पगले, वरना तू इतना हैंडसम,जवान है तुझ से लड़की न पटे ऐसा नहीं हो सकता। मयूर की है कोई कॉलेज में पटाई हुयी?

मैं- नहीं माँ, वो भी मेरे ही जैसा है।

आंटी- उफ्फ्फ मेरे दोनों बेटे ऐसे सीधे साधे, साधू बाबा हो क्या जो नहीं पटाई अभी तक कोई, अभी तक तो तुमने बहुत कुछ कर देना था, तुमने तो नाक कटवा दी है सही में राहुल बेटा। दिक्कत क्या है क्यों नही पटाई अभी तक कोई तुमने।

मैं- मयूर का तो पता नहीं माँ, लेकिन मुझे कोई पसंद ही नहीं आती।

आंटी- अच्छा कैसी लड़की पसंद है तुझे ?

मैं- आपके जैसी, जैसे आप हो मोटी सुडौल, खाते पीते घर से लगती हो। मुझे ऐसी लड़की ही पसंद है, कहीं मिलती ही नहीं।

आंटी- चल हट बदमाश कहीं का, मैं तो अब बूढी हो चुकी हूँ।

मैं- नहीं माँ आप सच मुच अभी भी जवान लड़कियों को टक्कर देती हो, मुझे तो आप पहली नज़र में पसंद आ गए थे सच्ची में। तेरी कसम।

आंटी- गंदे बच्चे, मुझे चने की झाड़ में चढ़ा रहा है, शर्म कर बेटा, अपने दोस्त की मम्मी पे डोरे डाल रहा है तू।

मैं- डोरे नहीं आंटी, आपको सच्चाई से वाकिफ करा रहा हूँ, आप बहुत खूबसूरत हो, मयूर ने कभी कहा नहीं आपसे ?

आंटी- उसको कहाँ अपनी माँ की फिक्र है, लेकिन अब मेरा नया बेटा बना है तू, तेरे मुह से अपनी तारीफ सुन कर अच्छा लगा राहुल बेटा।

मैं- दीदी कहाँ है, मयूर की दीदी भी है वो दिख नहीं रही।

आंटी- ओह अच्छा, स्वाति।। वो ऑफिस गयी है अभी आने वाली होगी, तू मिला है क्या उससे ?

मैं- नहीं नहीं आंटी, वो मयूर ने मुझे मोबाइल में फोटो दिखायी थी।

(दरअसल कॉलेज में मयूर ने मुझे अपने मोबाइल में उसकी दीदी की फोटो दिखाई थी जिसमे उसकी दीदी ने खुले गले का एक टॉप पहन रखा था, बाहें पूरी नंगी थी, बूब्स की घाटी दिख रही थी, बूब्स के ऊपर छाती में एक काला तिल था जो गोरे बदन की शोभा बढ़ा रहा था, टॉप इतना छोटा था कि मयूर की दीदी की गहरी नाभी स्पष्ट दिख रही थी, वो फोटो देखते हुए मेरा लण्ड झटके मारने लगा था जिससे मयूर बेखबर था, उसकी दीदी थोडा मोटी थी, गोरी थी लेकिन बहुत सेक्सी लग रही थी। उसकी दीदी की फोटो को याद करके मेने पता नहीं कितनी बार मुट्ठ मारी होगी)

आंटी- ये मयूर को इतना टाइम क्यों लग गया, फोन करती हूँ इसे।

(आंटी ने मयूर को फोन किया तो मयूर ने बताया कि उसे घर पहुचने में समय लग जायेगा, उसके रॉकी भैया उसे जबरन पार्टी में ले गए हैं, मीना आंटी नाराज हो गयी लेकिन मेरे मन में लड्डू फूटने लगे, मीना आंटी ने गुस्से से फोन काट दिया)

मैं- क्या हुआ आंटी क्या कहा मयूर ने, आप इतनी टेंशन में क्यों हो।

आंटी- अरे इसके ताऊ का बड़ा लड़का रॉकी बहुत बिगड़ा हुआ है, मयूर को पार्टी में ले जा कर उसे ड्रिंक करवाता है, अभी देख लो, तुम्हे यहाँ घर में रोककर पार्टी में चला गया, बोलता है देर रात में आएगा, लेकिन तुम देखना राहुल बेटा, वो कल सुबह तक ही आयेगा।

(आंटी उदास हो जाती है और सोफे में बैठ जाती है)

मैं- कोई बात नहीं आंटी, आपका एक बेटा तो घर ही में है।

आंटी- अब उससे मास मंगाया था रात के खाने में बनाने को, मैं अब क्या बनाऊ तेरे लिए, तू ही बता ये अच्छी बात है क्या।

मैं- आंटी जो भी आप प्यार से बनाओगी मैं खुशी खुशी खाऊंगा, अब गुस्सा छोडो, दिल न तोड़ो, अच्छा आपके हाथ से ही खाऊंगा, अब तो खुश ??

(आंटी हंस पड़ती है और मुझे अपने गले लगा लेती है, आंटी गले इस तरह लगती है कि हमारा बैलेंस बिगड़ जाता है और हम दोनों सोफे से निचे गिर जाते हैं, अब मैं जमीन पर आंटी के ठीक ऊपर लेटा हूँ, आंटी हंसने लगती है और आंटी की साँसे मेरी साँसों से टकराती है, आंटी के बूब्स मेरी छाती से दब जाते हैं, मेरा लण्ड बिलकुल खड़ा हो गया है और ठीक आंटी की चूत के ऊपर है और झटके मार रहा है जिसका एहसास आंटी को भी हो रहा है, मैं कुछ देर ऐसे ही आंटी के ऊपर चित्त लेटा रहा, और हम दोनों हंस रहे हैं)

आंटी- अब हट बेटा, ऐसे ही लेटा रहेगा क्या माँ के ऊपर।

मैं- हटने का मन नहीं है माँ, ऐसे ही लेटे रहने दो प्लीज।

आंटी- तुझे अच्छा लग रहा है क्या ?

मैं- हाँ बहुत अच्छा लग रहा है, आपके होंट में लाल लिपस्टिक बहुत मस्त लग रही है माँ।

आंटी- अच्छा, बहुत शरारती है तू, बदमाश कहीं का।

(मेरा लण्ड सलामी दे रहा है, जिसके कारण मुझे जोश चढ़ गया, आंटी और मुझे पसीना भी आ रहा है, और मैं अपने लण्ड को आंटी की चूत में घिसने लगा और हिलने लगा)

आंटी- तू ऐसे हिल क्यों रहा है, शांत रह बेटा, और ये कुछ चुभ रहा है, क्या है ये।

Comments

Scroll To Top