Call Girl Bankar Anjaan Uncle Se Chudwaya

Click to this video!
Arashdeep Kaur 2016-12-23 Comments

Hindi Sex Story

हैलो दोस्तो, मैं अर्शदीप कौर उर्फ चुद्दकड़ अर्श आपके सामने अपनी चुदाई की दूसरी कहानी लेकर पेश हूई हूं। उम्मीद करती हूं इस कहानी को पढ़ कर लड़के अपने खड़े लंड हिलाएंगे और लड़कियां अपनी गीली चूत में ऊंगली करेंगी।

वैसे आप मेरे बारे जानते ही होगे अगर भूल गए तो मैं अपना परिचय फिर से दे रही हूं। मैं पंजाब के फिरोज़पुर जिले के एक गांव की रहने वाली हूं और एमकॉम पहले साल की छात्रा हूं। मेरी आयु 23 साल और रंग बहुत गोरा है। मेरा कद 5 फीट 7 इंच और फिगर का नाप 34डी-26-35 है।

मेरे बूब्ज़ और मेरे चूतड़ साईज़ में काफी बड़े-बड़े और शेप में गोल हैं। मेरी आंखों और बालों का रंग गहरा काला है। मेरे होंठ पतले, रसीले और गुलाबी हैं। मेरे बूब्ज़ और मेरी गांड बाहर को उभरे हुए हैं जबकि पेट बिल्कुल समतल है। मेरा बदन भरा हुआ एवं टाईट है और नाभि गहरी है। मेरी जांघें भरी हुई, मुलायम और टाईट हैं। यह कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है..

मेरे बूब्ज़ के निप्पलों का रंग हल्का भूरा है। मैं ज्यादातर टाईट जींस के साथ टाईट टॉप या बॉडी फिट शर्ट के साथ ऊंची एडी़ के सैंडिल पहनती हूं। ऐसी ड्रेस में मेरे बदन के उभार बहुत सेक्सी दिखते हैं और ऊंची एडी़ से मेरी मोटी गांड में और भी ज्यादा उभार आ जाता है।

जब मैं चलती हूं तो मेरे गोरे रंग, रसीले होंठ, तने हुए बड़े-बड़े गोल बूब्ज़, लचक खाती पतली कमर, जींस में कसी हुई मुलायम जांघें और ऊपर-नीचे हिलती हुई गांड को देखकर लड़कों से लेकर बूढ़ों के लंड खड़े हो जाते हैं। वो सब मुझे ख्यालों में चोद कर अपना पानी निकालते हैं। मुझे मर्दों को ऐसे तड़पाने में बहुत मजा आता है।

मैं जान बूझकर उनके सामने अपनी गांड सेक्सी तरीके से हिलाकर चलती हूं। कई बार भीड़भाड़ में अपने बूब्ज़ या गांड से मर्दों को छूकर गर्म कर देती हूं। मैं इतनी सेक्सी, गर्म और मस्त लड़की हूं कि हर मर्द मुझे अपने बिस्तर की रानी बनकर मेरे तीनों छेदों में लंड घुसा कर जोरदार तरीके से चोदना चाहेगा।

मैं खुद भी हवस की पुजारिन और बहुत बड़ी चुद्दकड़ हूं। मैं बहुत सारे लड़कों, शादीशुदा मर्दों और बूढ़ों के साथ चूत और गांड चुदाई के मजे लूट चुकी हूं। इसके अलावा मुझे शराब और सिगरेट की भी लत है।

ये कहानी दिसंबर 2016 के दूसरे हफ्ते की है। मैं अपनी सहेली की बहन की शादी में दिल्ली आई हुई थी। मुझे वहां से वापस घर आना था और शाम को मेरी ट्रेन थी। मैं वहां से लोकल बस से स्टेशन को निकल पडी़। उस समय मैंने काली जींस, हरा टॉप, काली जैकेट और काले ऊंची एडी़ के बूट पहने हुए थे। नीचे से मैंने हरे रंग की हाफ़ ब्रा और पैंटी पहन रखी थी। बस में मेरे पीछे एक लड़का खड़ा था।

उसने भीड़भाड़ का फायदा उठाते हुए मेरे बदन से छेड़छाड़ चालू कर थी और कुछ देर बाद अपना खड़ा लंड मेरी गांड पर दबाने लगा। उसकी इन हरकतों से मैं बहुत गर्म हो गई और उसका साथ देने लगी। मैं उसके लंड को अपनी गांड से दबा देती। मेरा दिल चुदाई करने का होने लगा लेकिन वहां बहुत लोग थे तो कुछ नहीं हो सका।

मैं ऐसे स्टेशन पर आ गई और वहां मालूम हुआ कि मेरी ट्रेन थोड़ी देर पहले निकल गई और अगली ट्रेन पांच घंटे बाद है। मैं स्टेशन से बाहर आ गई और अंधेरे में जाकर बैग से शराब की बोतल निकाल ली।

मैंने जल्दी-जल्दी बोतल से तीन बड़े-बड़े पैॅग लगा लिए और सिर्फ तीन पैॅग में आधी बोतल खाली कर दी। गर्म तो बस में ही हो गई थी लेकिन शराब के नशे से सेक्स सिर पर चढ़ कर बोलने लगा। मैं साईड पर सिगरेट पीते हुए सोच रही थी कि चुदाई की आग कैसे शांत करूं।

तभी मुझे सामने कुछ लड़कियां खड़ी दिखाई दी। मर्द उनके पास आते और कुछ बातचीत करने के बाद लड़की को साथ ले जाते। मुझे समझ आ गई कि वो सब कॉल गर्ल्स हैं और मर्द उनके खरीदार। मेरे दिमाग में एक आईडिया आया और में उनसे कुछ दूरी पर खड़ी हो गई।

कुछ देर इंतजार के बाद मेरे पास एक 50-52 साल का अंकल आया और उसने मेरा रेट पूछा। मुझे इस बारे में कुछ मालूम नहीं था तो मैंने उल्टा अंकल से पूछा वो कितने देगा। अंकल ने मुझ से पूछा गांड भी दोगी तो मैंने कहा जैसे आपको पसंद हो वैसे करूंगी। अंकल ने मेरे जिस्म का सौदा चार घंटे केलिए 7000 में तय किया अंकल के साथ मैं स्टेशन के करीब एक छोटे से होटल में आ गई।

उस होटल के रूम में वो अंकल रुका हुआ था। हम दोनों उसके रूम में चले गए। रूम में एक सोफा, एक टेबल और एक डबल बैॅड लगा हुआ था। रूम में हीटर चल रहा था और गर्मी थी। मैंने अपनी जैकेट निकाल कर बैॅड पर फेंक दी। हम दोनों बातें करने लगे और अंकल ने अपना नाम राजन बताया। बातें करते-करते हम शराब और सिगरेट भी पी रहे थे। अंकल ने मुझ से पूछा क्या मैं उसके साथ न्यूड डांस कर सकती हूं और मैंने हां बोल दिया।

Comments

Scroll To Top